Definitions Of Freedom: स्वतंत्रता की अपनी-अपनी परिभाषा

Definitions Of Freedom

स्वतंत्रता की अपनी-अपनी परिभाषा दिल्ली की लड़की से पूछा कि तुम्हे पुरुषों से किस बात की स्वतंत्रता चाहिए। उसने कहा, “हे डूड लिसन, फर्स्ट ऑफ़ आल तो उनको ये समझाओ की लड़कियां सिर्फ देह नहीं है। और हाँ हमको हमारी मर्जी के कपडे पहनने, जहाँ मर्जी घूमने, देर रात पार्टी करने, दारू-सिगरेट पिने की आजादी चाहिए। हमारी मर्जी हम किसके…
Read more

साधारण होना अपने आप में एक असाधारण काम है।

जब एक बच्चा इस संसार में अपनी आँखे खोलता है तो वो अपने साथ कई उम्मीदों की पोटलियां भी खोलता है। संभव है वो ये नहीं जनता की उसने एक अजनबी संसार में कदम रखा है पर उसके माता-पिता या अन्य परिजन तो भलीभांति जानते हैं की उनके संसार में एक अजनबी किन्तु अत्यंत प्रिय आत्मा का प्रवेश हुआ है।…
Read more

शिवजी ने पार्वती जी को बताई राम नाम की महिमा

Shiva Hindi Stories

महादेव जी को एक बार बिना कारण के किसी को प्रणाम करते देखकर पार्वती जी ने पूछा आप किसको प्रणाम करते रहते हैं? शिव जी ने अपनी धर्मपत्नी पार्वती जी से कहते हैं की, हे देवी! जो व्यक्ति एक बार राम कहता है उसे मैं तीन बार प्रणाम करता हूँ। 🙏🏻🙏🏻🙏🏻 पार्वती जी ने एक बार शिव जी से पूछा…
Read more

कबीर और एक जिज्ञासु की भेंट की अद्भुत कथा

Kabir Hindi Stories

एक व्यक्ति कबीर के पास गया और बोला- मेरी शिक्षा तो समाप्त हो गई। अब मेरे मन में दो बातें आती हैं, एक यह कि विवाह करके गृहस्थ जीवन यापन करूँया संन्यास धारण करूँ?.. इन दोनों में से मेरे लिए क्या अच्छा रहेगा यह बताइए? कबीर ने कहा -दोनों ही बातें अच्छी है जो भी करना हो वह उच्चकोटि का…
Read more

Good Thought Of The Day In Hindi, आज का हिंदी सुविचार

Thought Of The Day In Hindi

अकेले होने पर भी भीड़ को महसूस करना अज्ञानता है। भीड़ में भी एकता महसूस करना बुद्धिमत्ता का लक्षण है। भीड़ में एकांत का अनुभव करना ज्ञान है। जीवन-ऊर्जा का ज्ञान आत्मविश्वास लाता है और मृत्यु का ज्ञान तुम्हे निडर और केंद्रित बनाता है। कुछ व्यक्ति केवल भीड़ में ही उत्सव मना सकते है: कुछ सिर्फ एकांत में,मौन में, ख़ुशी…
Read more

Thought Of The Day – January 10, 2017

Thought of The Day

Thought of The Day January 10, 2017 “The best way to break a bad habit is to drop it.” ~Leo Aikman January 09, 2017 “If you don’t watch out, putting on your unhappiness in the morning can become as instinctive as putting on your clothes.” ~Robert Brault January 08, 2017 “Habits are safer than rules; you don’t have to watch them. And you don’t have…
Read more